himabhiabhi

मुंबई की तर्ज पर यहां बनेगा 15 करोड़ 85 लाख से ऐसा पुल, सीएम ने रखी आधारशिला

Written on 12/07/2018
हिमाचल अभी अभी


मंडी। जिला के हणोगी में प्रदेश का पहला केबल स्टेयड ब्रिज बनने जा रहा है। सीएम जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को इस पुल की आधारशिला रखी। पुल का निर्माण 15 करोड़ 85 लाख की लागत से किया जाएगा और यह पुल द्रंग विधानसभा क्षेत्र को सराज विधानसभा क्षेत्र से जोड़ेगा। सरकार ने इसके लिए धनराशि जारी कर दी है। पुल के निर्माण कार्य को दो वर्षों में पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, ताकि जल्द से जल्द इसका लाभ यहां के लोगों को दिया जा सके।



इस मौके पर जयराम ठाकुर ने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र सराज के कुछ इलाके अभी तक सड़क सुविधा से नहीं जुड़ पाए हैं, जबकि इस पुल के बन जाने से वहां के लोगों को सड़क सुविधा का लाभ मिलेगा। सीएम ने बताया कि यह प्रदेश में नई तकनीक का पहला पुल होगा। बता दें कि इस प्रकार के केबल स्टेयड ब्रिज मुंबई और समुद्र के साथ सटे शहरों में बनाए जाते हैं। पुल के सारे भार को लोहे के रस्सों पर डाला जाएगा। यह पुल डबल लेन होगा और इसमें सौर ऊर्जा के आधुनिक उपकरण भी लगाए जाएंगे जो अंधेरा होते ही पूरे पुल को रोशनी से जगमग कर देंगे।



सीएम जयराम ठाकुर ने बताया कि यह पुल इलाके के पर्यटन विकास में भी अपना अहम योगदान देगा, क्योंकि यह पुल फोरलेन के साथ सटा होगा। उन्होंने बताया कि अभी जो फुटब्रिज यहां पर है उसे वैसे ही रखा जाएगा और उसके समानांतर डबल लेन पुल का निर्माण किया जाएगा। जयराम ठाकुर ने उन स्थानीय लोगों का भी आभार जताया जिन्होंने पुल निर्माण में अपनी जमीनों का योगदान दिया। इस मौके पर ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा, सांसद राम स्वरूप शर्मा, द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर और नाचन के विधायक विनोद कुमार सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी और लोग भी मौजूद रहे।